Skip to main content

About us

ABOUUS
नमस्कार दोस्तों मेरा नाम मनीष कुमार है। यह मेरा पहला ब्लोग है जिसके द्वारा मैं आप सभी का मदद कर सकता हुँ। इस ब्लोग के द्वारा ही आप से जुड़ सकता हुँ
       
              यह ब्लोग शरू करने का करण यह है, कि बहुत सारे ऐसे दोस्त है जो कम्प्यूटर, सुचना टेक्लोजी के बारे में जाने का प्रयास करते है लेकिन कुछ कारण से नही  जाने सकते है। इस हमलोग ने ऐसा सोचा को ब्लोग के द्वारा ही हमलोग एक-दूसरे कि मदद कर सकते है। अपनी ज्ञान को बढा सकते है।

        मुझे विश्वास है, कि आप का पुरा सहोयाग मिलेगा ।





Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

What is computer In hindi (कम्‍प्‍यूटर क्‍या है?)

कम्प्यूटर का परिचय :         प्राचीन समय से मानव अपने कतनीकी या ऐसे तरीके को विकास के लिए कुछ ऐसे संसाधनो:- जैसे – द्रव्य तथा सूचना आदि के बारें में जानकारी हासिल करने में लगा है ,   जो उनके दूनिया को नया आकार दे सके। सूचना एक ऐसा संसाधान है , जिसके निरन्तर विकास के लिए मानव वर्षों से प्रयत्नशील रहा है।         अत:   मानव ने सूचना को अपने वश में करने के लिए एक ऐसा मशीन ' कम्प्यूटर ' (Computer) का आविष्कार किया है , जो चाहे पूरा दुनिया के संदेशों/सूचनाओं को अपनी मठ्टी में कर सकता है। आज हम जिस आधुनिक कम्प्यूटर को देखते है , वह लगभग 53 वर्ष पूर्व आविष्कार हुआ था। लेकिन कम्प्यूटर का इतिहास उससे कहीं अधिक प्राचीन है। सभ्यता के प्रारंभ से ही व्यापारियों और सरकारी संस्थाओं ने ऑंकड़ संग्रहण और गणनॉंए करने के लिए गणना-यंत्रों का उपयोग किया है। 3 हजार वर्ष पूर्व चीन में आविष्कृत अबेकस (Abacus) इस प्रकार के गणना-यंत्र का एक उदाहरण है।             अब हम आधुनिक कम्प्यूटर के जन्मदाता या जनक के बारे जानगें । जब भी कम्प्यूटर के जनक या पिता के बारे क्या आप पता है , अगर आप

How many types of Computer in Hindi

कम्यूटर क्या है ? ( What is Computer ?)   कम्‍प्‍यूटर एक ऐसी इलेक्‍ट्रॉनिक डिवाइस है , जो इनपुट को प्राप्‍त करने , उसे प्रोसेस करके सूचना प्रदान करने के लिए निर्देशों का पालन करता है। कम्‍प्‍यूटर के प्रकार के बारे में अधिक जाने गये।           कम्‍प्‍यूटर के बाँटने का आधार तकनीकी तथा सैद्धान्तिक रूप में कम्‍प्‍यूटर को   मुख्‍यत: दो प्रकार से बॉंटा गया है :           1.  आकार के आाधार पर और         2.  कार्य करने या उपयोग के आधार पर   1 आकार के आाधार पर कम्‍प्‍यूटर में सहायक यंत्र , परिपथ तथा पुर्जे को आवश्‍यकतानुसार बढ़ाया जा सकते हैं , जिसके कारण कम्‍प्‍यूटर के आकार में काफी बड़ा हो सकता है।   अत: आकार के आधार पर कम्‍प्‍यूटर को मुख्‍यत: पॉंच प्रकार होते है             क्‍या आप के मन यह सवाल है कि , कम्‍प्‍यूटर के पॉंच प्रकार होते है? अब , आप ध्‍यान से पढे़ क्‍यो कि जो बताने वाला हुँ।  वह शायद ही आप को पता हो सकता है। i.      माइक्रो-कम्‍प्‍यूटर ( Micro-computer) या पर्सनल कम्‍प्‍यूटर ( PC)   ii.    मिनी कम्‍प्‍यूटर   ( Mini- Computer) iii.   सुपर मिनी कम्‍प्‍यू

How to Increase typing speed in Hindi

  How to Increase typing speed in Hindi   हिन्‍दी में typing speed को कैसे बढ़ाये    how to Increase typing speed in Hindi ( कैसे आप हिन्‍दी में टाईपिंग स्‍पीड बढ़ा सकते है।) अगर आप को English या Hindi टाईपिंग आता है तो , ह‍ि आप अपनी Typing Speed बढ़ा सकते है। क्‍योकि आगर आप को कुछ भी टाईप करना चाहेगे , तो आप keyboard के key या बटन का ज्ञान होना चाहिए। तब हि आप type कर सकते है। तब भी अपना  speed बढ़ा सकते हैं।         तो अब हमलोग keyboard के बारे में जान लेते है। जिसका उपयोग करके अपना typing speed को बढ़ा सकते है। Keyboard उपयोग करने का सुझाव या तरीका :- 1.    जब हाथ Keyboard पर रखें तो हाथ को सिधा रखें । 2.    कलाई को Keyboard से जितना संभव हो उतना ऊपर रखें । 3.    हर समय यह प्रयास करे कि टाईप करते समय सीधा बैठे । 4.    अपनी कलाई को बाहर या अन्‍दर न ले । 5.    पोइन्‍टर को जितना संभव हो अपने पास रखें । 6.    समान्‍य कार्य निपटाने के लिए Shortcut Key को उपयोग करें । 7.    Bottom को दवाने के लिए न्‍यूतम दाव का उपयोग करें । 8.    टाईप करते समय दस अंगूलियाका उपयोग क